अहमदाबाद | गुजरात समेत देशभर की 55 सीटों पर 26 मार्च को होनेवाले चुनाव को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है| केन्द्रीय चुनाव आयोग ने देशभर में कोरोना के कहर को देखते राज्यसभा चुनाव को स्थगित करने का फैसला किया है| 17 राज्यों की 55 सीटों पर 26 मार्च को वोटिंग होनी थी| लेकिन 18 मार्च को नाम वापसलेने की निर्धारित समयसीमा के बाद 37 उम्मीदवार निर्विरोध चुन लिए गए| शेष 18 राज्यसभा सीटों पर होने वाला चुनाव कोरोना संकट के चलते स्थगित कर दिया गया है| जिन राज्यों में चुनाव होने हैं, उसमें गुजरात, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, झारखंड, मणिपुर, मेघालय और राजस्थान शामिल है| हांलाकि अब यह चुनाव कब होंगे यह तय नहीं है|
गुजरात में राज्यसभा की चार सीटों पर 5 उम्मीदवारों ने नामांकन किया है| जिसमें भाजपा से अभय भारद्वाज, रमीला बारा और नरहरि अमीन शामिल हैं| जबकि कांग्रेस से शक्तसिंह गोहिल और भरतसिंह सोलंकी उम्मीदवार है| 182 वाली गुजरात विधानसभा की दो सीटें पहले से रिक्त थीं| राज्यसभा चुनाव से पूर्व कांग्रेस के पांच विधायकों के इस्तीफे से रिक्त सीटों की संख्या 7 हो गई है| 175 विधायकों में भाजपा के 103, कांग्रेस के 68, बीटीपी के 2, एनसीपी का एक और एक निर्दलीय शामिल है| पांच विधायकों के इस्तीफे से कांग्रेस की स्थिति कमजोर हुई है| हांलाकि कांग्रेस का दावा था कि बीटीपी, एनसीपी और निर्दलीय के समर्थन से उसके दूसरे उम्मीदवार की जीत होगी| लेकिन निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी को छोड़ बीटीपी छोटू वसावा व महेश वसावा और एनसीपी के कांधल जाडेजा ने स्पष्ट नहीं किया था कि राज्यसभा चुनाव में किसका समर्थन करेंगे| पांच विधायकों के बाद कांग्रेस को पहले से क्रॉस वोटिंग का भय सता रहा था और अब राज्यसभा चुनाव स्थगित होने से उसे विधायकों के टूटने की आशंका है| इसलिए कांग्रेस चाहती थी कि राज्यसभा चुनाव तय समय पर कराए जाएं| लेकिन कोरोना संकट के चलते केन्द्रीय चुनाव आयोग ने राज्यसभा चुनाव स्थगित कर दिया है|