वाशिंगटन। अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा भारत और अमेरिका कोरोना वायरस से निपटने के लिए मिलकर प्रयास कर रहे हैं। इस घातक बीमारी के निदान एवं उपचार के क्षेत्रों में गठजोड़ किया जा रहा है। इस बीमारी ने विश्वभर में 20,000 से अधिक लोगों की जान ले ली है और 4,71,500 से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं। 
संधू ने कहा कोविड-19 वैश्विक महामारी के मौजूदा संदर्भ में इसके निदान एवं उपचार के क्षेत्रों में निकट सहयोग जारी है। उन्होंने कहा भारत एवं अमेरिका के बीच स्वास्थ्यसेवा क्षेत्र में, विशेषकर दोनों देशों के अनुसंधान संस्थानों एवं उद्योगों के बीच लंबे समय से उत्पादक साझीदारी रही है। 
अमेरिका में दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों के लिए कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री एलिस जी वेल्स ने दोनों के बीच सहयोग का जिक्र करते हुए ट्वीट किया अमेरिका कोविड-19 संक्रमण से निपटने के लिए भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगा। हम साथ मिलकर हर जगह हमारे नागरिकों एवं लोगों की रक्षा कर सकते हैं।
उन्होंने कहा अमेरिका भारत के साथ साथ खड़ा है और लड़ने से जज्बे को जिंदा रखने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का समर्थन करता है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और प्रधानमंत्री मोदी ने जब पिछले महीने नई दिल्ली में मुलाकात की थी, तब दोनों देशों ने कोरोना वायरस से निपटने के क्षेत्र में सहयोग पर चर्चा की थी। दोनों ने उस द्विपक्षीय समझौता पत्र की भी सराहना की थी जिसमें अमेरिकी और भारतीय उपभोक्ताओं के लिए उच्च गुणवत्ता वाली, सुरक्षित, प्रभावशाली और किफायती दवाओं तक पहुंच को प्रोत्साहित करने की बात की गई है।